रविवार, फ़रवरी 15, 2015

क्रिकेट औऱ हम इंडियावाले

कमाल है....चार दशक बीत गए....पर 40 साल में एक दिन नहीं बदला...और वो है क्रिकेट में पाकिस्तान पर भारत की जीत का दिन। जिस दिन टीम इंडिया मैदान में पाकिस्तान को धूल चटाती है, उस दिन मैच खत्म होते ही देश में हम इंडियावाले सड़कों पर उतर जाते हैं। कोई कितनी भी गाली दे दे क्रिकेट को, पर क्रिकेट में पाकिस्तान के खिलाफ मैच के दौरान हम सेकेंड में इंडियावाले बन जाते हैं। 
   मैच शुरू होने से पहले डर था ''सचिन इस बार नहीं हैं...क्या होगा? पर हुआ वही, जो सचिन के होते भी होता था..हमने लगातार छठी बार पाकिस्तान को वर्ल्डकप मैच में धो डाला। लगातार छठी बार टॉस भी हमने ही जीता। उसके बाद की कहानी इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गई है। हजारों प्रशंसकों के लिए वर्ल्डकप जीतने से भी बड़ी जीत है पाकिस्तान पर जीत।
आपको याद होगा कि पिछले साल 13 दिंसबर को भुवनेश्वर में हॉकी का मैच जीतने के बाद पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने भद्दे-भद्दे इशारे किए थे। एडिलेड में भारत खिलाड़ियों ने इस तरह की शर्मनाक हरकत नहीं की।
     हम जितना जीत का हुड़दंग मचा रहे थे, उतना ही पाकिस्तान में लोग TV सेट तोड़ रहे थे। ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में तो पाकिस्तानी फैन टीम को हार की तरफ बढ़ते देखना पचा नहीं और वो आउट ऑफ कंट्रोल होकर भारतीय फैन से भिड़ गए। ऐसा नहीं कि हर फैन ऐसा ही था। एडिलेड में मैच से लौटते वक्त कई पाकिस्तानी फैन ने साफ कहा कि उन्हें पता था कि भारत ही मैच जीतेगा। यहां तक कि एक पाकिस्तानी फैन ने कहा कि विराट कोहली इस जनरेश्न के सबसे बेहतर खिलाड़ी हैं।
    जीत का भारतीय जश्न और हार का पाकिस्तानी मातम ट्व्टिर पर भी छाया रहा। इंडिया-पाकिस्तान मैच में एक सेंकेंड में 200-400 ट्व्टिट आने लगे।
  भारतीय फैंस ने स्टार स्पोर्टस के पटाखे वाले एड के लिए ट्व्टिर पर नई पंच लाइन दे मारी...
"" पाकिस्तान में पटाखों की दुकान के बाहर बोर्ड लग गया है: 'बेचा हुआ माल वापस नहीं होगा।'"""
''''''''अगला ऐड कैंपेन, 'पटाखे? OLX पे बेच दे!''''''
''''''पटाखे अपनी सातवीं पुश्त के लिए रख दे, अबतक फोड़ने का मौका नहीं मिला..पटाखे भी फुस्स हो गए, धरोहर संभाल कर रखेगी अगली पुश्तें"'''
पाकिस्तानी फौज ने हारने पर सोनाक्षी का डॉयलॉग अपना लिया..
'''''''भारत-पाक बॉर्डर पर भारतीय सैनिक: रुक जाओ, वरना गोली मार दूंगा। पाक सैनिक: गोली से डर नहीं लगता साब, कोहली से लगता है...''''''''
       सरहद पार हालात जुदा थे। पाकिस्तानियों ने हार पर हुकूमत को जमकर कोसा। लोगो ने प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को भी नहीं बख्शा। लोगो ने ट्व्टि किया-
''''नवाज शरीफ ने यूएन में शिकायत दर्ज कि है कि पहले तो कश्मीर जीतने नहीं दिया, अब खेलने भी नहीं  दे रहे""
''तीन चीज हम कभी नहीं जीत सकते..1-कश्मीर, 2-जंग, 3-वर्ल्ड कप में भारत के खिलाफ मैच''
''हमें ज्यादा दुखी नहीं होना चाहिए, आखिर पाकिस्तान का राष्ट्रीय खेल हॉकी है''
पाकिस्तानियों ने आतंकवादियों को भी जमकर कोसा। एक ने ट्व्टिट किया-
"बेहतर है कि बच्चों को आतंकवाद कि ट्रेनिंग लेने की जगह क्रिकेट की ट्रेनिंग के लिए भेजा जाए""
        वैसे मुझे सबसे मस्त लगा विराट कोहली के शतक पर एक ट्व्टि। फैंस ने लिखा-
''विराट ने डर के मारे शतक ठोक डाला क्योंकि उसे डर था कि कहीं हारने पर केजरीवाल उनके घर के बाहर धरने पर न बैठ जाएं''' अब विराट ठहरे दिल्ली वाले और केजरीवाल उसी दिल्ली के नए-नए प्रचंड बहुमत वाले मुख्यमंत्री।
वैसे पाकिस्तानी टीम की फैन लड़कियों कि एक तस्वीर के साथ कैप्शन था
''हम पाकिस्तानी फैन से फिर भी प्यार करते हैं"
   भारत-पाकिस्तान के वर्ल्डकप मैच के साथ पहली बार बिग बी यानि हमारे महानायक अमिताभ बच्चन ने भी क्रिकेट कमेंट्री की। जिसका लोगो ने जमकर स्वागत किया। ट्व्टिट पर लोगो ने लिखा....
"" कॉमेंट्री करते वक्त बिग बी जोश में आकर यह न कह दें कि रिश्ते में तो हम तुम्हारे बाप लगते हैं, नाम है - हिंदुस्तान""""
कुछ और भी पढ़ने का मन हो तो आप इसे मेरे ट्व्टिर हेंडल पर पढ़ सकते हैं... @rohit_rks
      भारत में मैच के दौरान सड़कों पर वीरानगी तो आम बात है। अब इस मैच की दीवानगी दुनिया में धूम मचा रही है। इन खबरों को उन देशों के लोगो ने भी रिट्व्टि किया, जहां क्रिकेट कम लोग ही जानते हैं। वो ये जानकर हैरत में थे कि इस मैच को करीब एक अरब लोगो ने देखा। एडिलेड तो मिनी इंडिया ही बन गया था। 50,000 से कुछ ज्यादा क्षमता वाले स्टेडियम में करीब 33,000 भारतीय फैन थे। एडिलेड में एक विदेशी ने ट्व्विट किया-
"अपने घर जा रहा हूं...गाड़ी में मैच देखकर लौटते चिल्लाते भारतीय फैन सवार हैं"  
सोचता हूं कि आखिर ये मैच रोजाना क्यों नहीं होते। कम से कम हम मजहबी झगड़े से तो बचे रहेंगे। पर किसी ने सच ही कहा है नेक नीयत से ही नेक काम नहीं  हो जाते।

मां..काश कुछ फिल्मी फरिश्ते मिलते

   पुरानी फिल्मों में फैमली डॉक्टर के हाथ में एक जादू का बक्सा होता था। कैसी भी बीमारी हो , एक गोली देता था , या इंजेक्शन लगाता था और ब...