बुधवार, अगस्त 29, 2018

दद्दा ध्यानचंद हम तो बेशर्म हैं !!

दद्दा का जन्मदिन है...उनके बारे में हर कोई जानता है भारत में...दिमाग में ख्यालात वही हैं जो इस दो साल पुरानी पोस्ट में है...दोबारा पोस्ट कर रहा हूं

दद्दा हम तो बेशर्म हैं..
https://boletobindas.blogspot.com/2016/08/blog-post_31.html

मां..काश कुछ फिल्मी फरिश्ते मिलते

   पुरानी फिल्मों में फैमली डॉक्टर के हाथ में एक जादू का बक्सा होता था। कैसी भी बीमारी हो , एक गोली देता था , या इंजेक्शन लगाता था और ब...